image

बिहार के बक्सर में ज्योति प्रकाश चौक पर रविवार को कुछ संगठनों द्वारा महिषासुर की शहादत दिवस मनाने के नाम पर तनाव का माहौल बनाने का मामला सामने आया है। वहीं कई हदू संगठन इसके विरोध में आ गए और दोनों पक्षों में झड़प भी शुरू हो गई। जिसके चलते आयोजनकर्ता और जिला प्रशासन के खिलाफ जमकर हाई वोल्टेज ड्रामा चला।

Read More: #MeToo: मेरे परिवार की महिलाओं से बदतमीजी करने की किसी में हिम्मत नहीं- सैफ अली खान

वहीं इस हाई वोल्टेज ड्रामा के बाद कार्यक्रम को रद्द कर दिया गया। इस मामले में पुलिस ने कई लोगों को हिरासत में लिया है और शहर में तनाव को देखते हुए पूरे दिन प्रशासन मार्च करता रहा। हालांकि की इन सबके पीछे बताया जा रहा है कि महिषासुर शहादत दिवस आयोजन समिति की तरफ से एसडीओ केके उपाध्याय की बिना अनुमति के ज्योति चौक पर आयोजन किया गया।

Read More:    #MeToo Chetan Bhagat       #MeToo Akshay Kumar       #MeToo Vikas Behl

वहीं पुलिस ने इस कार्यक्रम पर रोक लगा दी। इसके पीछे पुलिस ने वजह बताते हुए कहा कि यह कार्यक्रम को बिना अनुमति के आयोजन किया गया था। जिसके बाद सदर एसडीपीओ सतीश कुमार ने हंगामा कर रहे सभी लोगों को शांत कराया और अनुमति लेकर कार्यक्रम का आयोजन करने को कहा। जबकि मामले में डीएसपी ने आयोजकों में से एक के गिरफ्तारी की पुष्टि की।

Read More:  स्कूल के बरामदे में मिली खून से लथपथ महिला, छठ पूजा का सामान लेने घर....

इसके अलावा इस घटना को लेकर सोशल मीडिया पर पोस्ट सारी रात जहां कॉमेन्ट्स लिखे जाते रहे। वहीं, मामले को गंभीरता से लेते हुए जिला प्रशासन के साथ पुलिस प्रशासन भी पहले ही सतर्क हो गया था। टिप्पणी करने वाले संतोष पेरियार द्वारा सोशल मीडिया के माध्यम से इस बात की घोषणा की गई थी कि इस विषय पर ज्योति चौक पर दिन के 11 बजे से शाम पांच बजे तक परिचर्चा का आयोजन किया जाएगा। जिसको देखते हुए पुलिस द्वारा ज्योति चौक समेत आस पास के पूरे क्षेत्र में भारी संख्या में पुलिस बल को तैनात कर दिया गया था।

Read More: लखनऊ में बेखौफ बदमाशों ने दिनदहाड़े कैशियर को मारी गोली, पैसों से भरा बैग लेकर फरार

Web Title: buxar one arrest in mahisasure celebration day

More News From bihar

Advertisement
Advertisement
Next Stories
image

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
free stats